छात्रावास के नियम

छात्रावास के नियम

  1. छात्रावास में प्रवेश प्राप्त भैयाओं को निर्धारित दिनचर्या का पालन करना आवश्यक है। भैया को अपने आवास

एवं स्वयं की स्वच्छता का ध्यान रखना आवश्यक है।

  1. प्राचार्य/छात्रावास अधीक्षक की अनुमति से ही छात्रावास में प्रवेश एवं परिसर से बाहर जाना संभव होगा।
  2. विद्यालय एवं छात्रावास में भैया द्वारा नियम पालन एवं शिष्ट व्यवहार अपेक्षित है। ऐसा न करने पर

अनुशासनात्मक कार्यवाही की जावेगी एवं भैया को निष्कासित भी किया जा सकता है।

  1. अवकाश के उपरांत निर्धारित तिथि पर न आने पर निर्धारित विलम्ब शुल्क का भुगतान करना होगा।
  2. एक बार जमा किया गया शुल्क किसी भी स्थिति में वापस नहीं होगा।
  3. आवासीय छात्र को किसी भी स्थिति में प्रवासी नहीं किया जा सकेगा।
  4. विद्यालय की अनुमति एवं अभिभावक की जानकारी के बिना यदि भैया छात्रावास से चला जाता है, तो संस्था

अभिभावक को सूचित करते हुए उसे ढूँढ़ने का प्रयास करेगी, किन्तु कोई अप्रिय घटना घटित होने पर इसका

सम्पूर्ण उत्तरदायित्व स्वयं अभिभावक का होगा। इसमें संस्था की कोई जवाबदारी नहीं होगी। ऐसी स्थिति में

छात्र को विद्यालय से निष्कासित भी किया जा सकता है।

  1. बालक को किसी बीमारी के कारण अथवा आकस्मिक रूप से कोई घटना घटित होने पर हानि पहुँचती है, तो

संस्था स्थानीय व्यवस्था के अनुसार उपचार का प्रयास करेगी, किन्तु आकस्मिक घटना घटने पर संस्था की

कोई जवाबदारी नहीं होगी।

  1. भैयाओं से अभिभावक या अधिकृत व्यक्ति के मिलने का समय प्रत्येक माह का अंतिम रविवार है। जिसमें

प्रातः 10 बजे से सायं 4 बजे तक छात्रावास अधीक्षक की अनुमति से मिला जा सकता है। अन्य दिनों में

अभिभावक का आगमन वर्जित है।

  1. संस्था के किसी भी प्रकरण का न्यायालीन क्षेत्र शिवपुरी म.प्र. ही होगा।
  2. अवकाश की निश्चित तिथि पर भैया को छात्रावास से ले जाने और लाने की जिम्मेदारी अभिभावक की है, यदि

किसी अन्य व्यक्ति को लेने भेजा जाता है तो उसके साथ अभिभावक का अधिकार पत्र होना आवश्यक है।

  1. दीपावली एवं रक्षा बंधन अवकाश की पुर्व सूचना अभिभावक को डाक/दूरभाष द्वारा भेजी जाती है। इसके

अतिरिक्त अवकाश प्रदान नहीं किया जाता है।

  1. दूरभाष से बातचीत का समय प्रत्येक रविवार प्रातः 8 बजे से सायं 5 बजे तक निश्चित है। इसके अतिरिक्त

दूरभाष पर चर्चा न करें।

  1. प्रवेश तभी स्थायी होगा जब बालक की पिछली कक्षा की अंकसूची एवं टी.सी. (स्थानांतरण प्रमाण पत्र) जिला

शिक्षा अधिकारी से प्रतिहस्ताक्षर कराकर जमा कर दी जावेगी।

  1. आपके पत्र व्यवहार के पते एवं दूरभाष क्रमांक में परिवर्तन हो तो संस्था को विधिवत लिखित रूप से सूचना

करना अनिवार्य है।

  1. भैयाओं को मोबाईल, कैमरे, आभूषण एवं नगद राशि रखना वर्जित है। ऐसा होने पर कठोर अनुशासनात्मक

कार्यवाही के चलते बालक को छात्रावास से निष्कासित भी किया जा सकता है।

  1. भैया को संस्था द्वारा आयोजित शैक्षिक भ्रमण, विद्या भारती द्वारा आयोजित किसी भी प्रतियोगिता में अथवा

अन्य कार्यक्रम में सहभागी बनाया जाता है, तो इसमें अभिभावक की पूर्ण सहमति मानी जावेगी। यहाँ पर कोई

अप्रिय घटना होने पर संस्था उत्तरदायी नहीं होगी।

  1. अभिभावक या अन्य अधिकृत व्यक्ति विद्यालय परिसर में संस्था के नियमों का पालन मर्यादित रहकर करेगें।
  2. छात्रावास में प्रवेश दिलाने के पूर्व स्वास्थ्य प्रमाण प्रत्र एवं अन्य अपेक्षित अभिलेख संस्था में जमा करना

अनिवार्य है।

  1. भैयाओं के आवास में अभिभावक का प्रवेश वर्जित है।
  2. इन नियमों के अतिरिक्त समय-समय पर जो नियम निर्देश एवं सूचनायें लिखित अथवा मौखिक रूप से संस्था

द्वारा दी जावेगी। इनका अभिभावक द्वारा अनुपालन करना अनिवार्य है।