27वी राष्ट्रीय बाल विज्ञान कांग्रेस में की सरस्वती विद्यापीठ आवासीय विद्यालय के छात्र ने सहभागिता

शिवपुरी – 27वी राष्ट्रीय बाल विज्ञान कांग्रेस का आयोजन जो कि नेशनल काउंसिल ऑफ इंडिया एवं साइंस एंड टेक्नोलॉजी भारत सरकार द्वारा संचालित की गई थी ।
दिनाँक 2 से 4 दिसंबर तक भोपाल में राज्य स्तरीय प्रतियोगिता का आयोजन गिरधर ग्रुप ऑफ़ इंस्टिट्यूशन मंडीदीप जिला रायसेन में किया गया। इस राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में सरस्वती विद्यापीठ आवासीय विद्यालय शिवपुरी के भैया पंकज जालौन ने इस इस राज्य स्तरीय राष्ट्रीय बाल विज्ञान कांग्रेस में भाग लेकर 11वाँ स्थान प्राप्त कर विद्यालय एवं शिवपुरी जिले का नाम गौरवान्वित किया एवं भैया का चयन सुपर 30 में किया गया ।
भैया की संपूर्ण तैयारी विद्यालय के शिक्षक महेंद्र कुमार अहिरवार ने मार्गदर्शक शिक्षक के रूप में एवं एस्कॉर्ट टीचर के रूप में मार्गदर्शन किया । आगामी 28 29 एवं 30 दिसंबर को केरल के तिरुवनंतपुरम में राष्ट्रीय स्तर का प्रदर्शन किया जाएगा इस प्रकार भैया का चयन राज्य स्तर पर टॉप 30 के अंतर्गत 11वे स्थान पर रहा, भैया की इस उपलब्धि पर शिक्षा विभाग के वरिष्ठ अधिकारी एवं सरस्वती विद्यापीठ आवासीय विद्यालय के प्राचार्य श्री पवन शर्मा जी , प्रबंधक श्री ज्ञानसिंह कौरव एवं विद्यालय के सभी शिक्षकों ने भैया को शुभकामनाएं प्रदान की ।

*अखिल भारतीय विज्ञान मेला में सरस्वती विद्यापीठ आवासीय विद्यालय के दिव्यांश और यशवंत ने प्राप्त किया रजत पदक*

शिवपुरी – विद्याभारती अखिल भारतीय विज्ञान मेला कानपुर में सरस्वती विद्यापीठ आवसीय विद्यालय शिवपुरी के छात्र दिव्यांश राजपूत एवं यशवंत राजपूत के विज्ञान मॉडल को देखकर निर्णायक मंडल द्वारा द्वितीय स्थान प्रदान किया गया ।
दिव्यांश राजपूत विद्यालय के कक्षा 6 का विद्यार्थी है जिसने अपने मॉडल “विज्ञान में नवाचार” को प्रदर्शित करते हुए एक ऐसी नई तकनीक का निर्माण किया है जिसके द्वारा निर्मित कार (जीप) के अनुसार आधुनिक कारों (जीप) को निर्मित किया जाए तो वर्तमान समय में होने वाली सड़क दुर्घटनाओं को रोका जा सकता है जिससे जन धन की हानि की समस्या का निराकरण किया जा सकता है । छात्र के मॉडल को प्रस्तुत करने के तरीके से सभी दर्शकों सहित निर्णायक मंडल में भी कौतूहल का विषय बना हुआ था कि इतनी कम आयु का बच्चा बेझिझक अपने विषय को शानदार तरीके से प्रस्तुत कर रहा है ।
यशवंत राजपूत जो विद्यालय की कक्षा 11 का विद्यार्थी है जिसके मॉडल का विषय “संचार” था जिसके द्वारा उन्होंने एक ऐसी नई तकनीक का प्रस्तुतिकरण किया है जिसके द्वारा हमारे देश के किसान घर बैठे ही अपने ट्यूबबेल पम्प को चालू एवं बंद कर सकते हैं जिससे समय एवं ऊर्जा की काफी बचत होगी तथा इससे विद्युत एवं जल का अपव्यय भी रोका जा सकेगा ।
यह अखिल भारतीय विज्ञान मेला कानपुर में दिनाँक 30 नवंबर से 04 दिसंबर तक बी. एन. एस. डी. शिक्षा निकेतन, बेनाझाबर में आयोजित किया गया था जिसमें देश के विभिन्न क्षेत्रों से प्रतिभागियों ने सहभागिता की जिसमें सरस्वती विद्यापीठ आवासीय विद्यालय के छात्रों ने आचार्य श्री विपिन राजपूत विभागाध्यक्ष भौतिक विभाग के निर्देशन में विज्ञान के मॉडलों को प्रदर्शित किया ।
छात्रों की इस उपलब्धि पर विद्यालय के प्रबंधक श्री ज्ञानसिंह कौरव प्राचार्य श्री पवन शर्मा सहित विद्यालय परिवार ने उन्हें बधाइयां देते हुए उनके उज्ज्वल भविष्य के लिए शुभकामनाएं प्रदान की ।

संभागीय घोष वादन प्रतियोगिता में द्वितीय स्थान प्राप्त

दिनांक 14/11/2019 को ग्वालियर में आयोजित हुई संभागीय घोष वादन प्रतियोगिता में विद्यापीठ के भैयाओं ने द्वितीय स्थान प्राप्त कर जिले एवं संस्था को गौरवान्वित किया।

कास्ता पाइप प्रा.लि.के संचालक द्वारा भैया दीपक भगत सम्मानित

कास्ता पाइप प्रा.लि.के संचालक द्वारा भैया दीपक भगत कक्षा 10 को जिले की प्रावीण्य सूची में आने पर सम्मानित किया गया ।

*रामलखन बने विद्यापीठ केशरी और सौरभ बने विद्यापीठ कुमार*

सरस्वती विद्यापीठ आवासीय विद्यालय में आयोजित दंगल में पहलवानों ने दिखाए दाँव पेंच

शिवपुरी – प्रतिवर्ष की भाँति इस वर्ष भी नागपंचमी के अवसर पर सरस्वती विद्यापीठ आवासीय विद्यालय में ओपन दंगल 2019 आयोजित किया गया जिसमें विद्यालय के अतिरिक्त अन्य विद्यालयों के पहलवानों ने भी अपने दमखम का परिचय दिया और विजेता और उपविजेता का पदक प्राप्त कर विद्यापीठ केशरी और विद्यापीठ कुमार बने।
दंगल में मुख्य अतिथि श्री ज्ञान सिंह कौरव विभाग समन्वयक शिवपुरी रहे ।
दंगल का शुभारंभ श्री हनुमान जी महाराज की प्रतिमा पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्वलन के साथ विद्यापीठ परिसर के विशाल सुदर्शन सभागार में हुआ जिसमें विभिन्न खिलाड़ियों ने भागीदारी कर अपनी कुश्ती के दाँव पेंचों के कौशल का परिचय दिया। इस अवसर पर पहलवानों को सं‍बोधित करते हुए श्री कौरव ने कहा कि खिलाड़ियों में खेल भावना को बनाए रखने के लिए इस प्रकार के आयोजन सराहनीय है कुश्ती के द्वारा शरीर बलवान और सुडौल बनता है।
ओपन दंगल कुश्ती के विद्यापीठ केशरी के लिए पहलवान रामलखन गुर्जर और पहलवान रामवीर गुर्जर के बीच कड़ी बाउट हुई। जो 5 मिनिट तक पेचीदा रही जिसके बाद छोटे भाई रामलखन ने बड़े भाई रामवीर को पछाड़कर चित्त कर विद्यापीठ केशरी का खिताब अपने नाम किया । दंगल में विद्यापीठ कुमार के लिए सौरभ शर्मा और रामअवतार यादव के बीच शानदार बाउट के साथ सौरभ शर्मा ने विद्यापीठ कुमार का खिताब जीता ।
शिशु वर्ग में अमन रावत और सूर्यांश की कुश्ती दंगल के आकर्षण का केन्द्र रही क्योंकि दोनों पहलवान नए और कम उम्र के थे।
कार्यक्रम का संचालन आचार्य श्री कमलकिशोर कोली ने तथा आभार प्रदर्शन पहलवान अनूप शर्मा ने किया । यह दंगल देर शाम तक चलता रहा ।
इस अवसर पर समस्त भैया और आचार्य परिवार तथा बड़ी संख्या में पहलवान और दर्शक उपस्थित रहे ।